DIWALI

Welcome to Diwali Poem In Hindi: Diwali Ayegi.

यह प्रकृति का नियम है । दिन, महिना ,साल बीतता जाएगा ….। नये माह, नये ऋतु आते रहेंगे…. भारत में त्योहार के बाद त्योहार आते रहेंगे….। और दिवाली आएगी, दिवाली आएगी….।

इस त्योहार का महत्व हम सभी के जीवन में है। हम घर तथा अपने आस-पास के जगह को साफ-सुतरा करते हैं। इस समय ठंड का मौसम भी शुरू हो जाता है। वातावरण बहुत बदल सा जाता है और कुछ अलग ही लगता है।

हम इस मौसम का आनंद तो लेते हैं और साथ-साथ दिवाली का इंतज़ार करते हैं। आखिरकार दिवाली आ ही जाती है और हम इसका आनंद लेते हैं।

चलिए, आज हम एक दिवाली कविता हिन्दी में : दिवाली आएगी…. का आनंद लेते हैं।

दिवाली कविता हिन्दी में :दिवाली आयेगी….

दिवाली आएगी …

दिवाली से पहले धनतेरस आएगा…

फिर…

छोटी दिवाली ….उसके बाद… गोबर्धन पुजा

और फिर… “भैया दूज” मनाया जाएगा।

दिवाली आएगी….

खुशियों की बौछार लाएगी….।

दिवाली आएगी …

कार्तिक मास को अमावस्या की रात को मनाया जाएगा…

दिवाली के रात को…

माता महालक्ष्मी, भगवान गणेश की पुजा होगी….

उनसे धन की कामना किया जाएगा….

दिवाली आएगी….

खुशियों का बौछार लाएगी….।

दिवाली आएगी…

जानिए पुरानी कहानी …

14 साल का वनवास काट कर

भगवान श्री रामचंद्र जी का आगमन हुआ

उनके स्वागत में घर घर, हर जगह दिये जलाये गए

उनके लौटने की खुशी से अयोध्या जगमगाया था

भगवान श्री रामचन्द्र जी का भव्य स्वागत हुआ

आज हम उसी खुशी को दोहराते हैं

अंधकार पर प्रकाश का विजय करवाते हैं

धूमधाम से दिये जलाते हैं

उसी के याद में दिवाली मनाते हैं

दिवाली आएगी…

सुख-समृद्धि का बौछार लाएगी…..।

दिवाली आएगी…

घर-घर, दुकान, दफ्तरों में दीप जलेगा

पड़ोसियों, रिस्तेदारों के बीच मिठाई बँटेगा

हर गाँव – हर शहर साफ सुतरे होंगे

दुल्हन की तरह सज जाएंगे

दिवाली आएगी…

खुशियों का बौछार लाएगी….

दिवाली आएगी…

खुशियों का बौछार लाएगी….।

….रतिकान्त सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *